- वायु सेवा संघर्ष समिति का सम्मेलन कल

वायु सेवा बहाली को लेकर सभी संगठन करेंगे चर्चा जबलपुर, जबलपुर की वायु सेवाओं की दयनीय स्थिति तथा विलुप्त होती वायु सेवाओं के विरोध में तथा जबलपुर को पुनः वायु सेवा के राष्ट्रीय मानचित्र पर स्थापित करने हेतु संघर्षरत, वायु सेवा संघर्ष समिति का एक सम्मेलन दिनांक २६ मई रविवार को आयोजित किया जा रहा है। एक जानकारी में समिति के संयोजक हिमांशु खरे ने बताया की उक्त सम्मेलन में जबलपुर के जनप्रतिनिधि, वायु सेवा के विभिन्न स्टेक होल्डर अर्थात वे यात्रीगण और श्रेणी की यात्री जो सीधे तौर पर वायु सेवाओं से जुड़े रहते हैं, उन्हें आमंत्रित किया जा रहा है। यह आयोजन सिर्फ जबलपुर का ही नहीं बल्कि संपूर्ण महाकौशल, विंध्य एवं शहडोल क्षेत्र का होगा। संघर्ष समिति की गीता शरत तिवारी, शंकर नागदेव, राजा सराफ ने बताया की जबलपुर कई जिलों का केंद्र बिंदु है तथा यहां से वायु सेवाओं में कटौती होने पर बहुत बड़े स्तर पर अर्थव्यवस्था का नुकसान हो रहा है जिसमें जबलपुर रीवा एवं शहडोल संभाग के सभी जिले आते हैं। वायु सेवाएं न होने से इसका सीधा असर क्षेत्र के विकास एवं एक छोटे से व्यापार पर भी पड़ता है क्योंकि जब वायु सेवा ही न होगी तब किस बात का निवेश और काहे का पर्यटन उद्योग। समिति के हेमराज अग्रवाल, रोहित खटवानी, मनु तिवारी, अजीत पवार, नीता नारंग ने बताया कि आगामी २६ मई को होने जा रहे इस सम्मेलन में कई क्षेत्रों के व्यापारिक चैंबर्स, व्यापारिक संस्थाएं, सामाजिक संस्थाएं आदि सम्मिलित होंगे तथा एक स्वर में मांग की जाएगी की जबलपुर में वायु सेवाओं की पुनः बहाली की जाए। समिति के इस जन आंदोलन को जीतो जबलपुर चैप्टर, अनाज एवं तिलहन व्यापारी संघ, अखिल भारतीय महिला परिषद, महाकौशल कंप्यूटर डीलर्स एसोसिएशन, हाऊबाग गोरखपुर व्यापारी संघ, जैन सोशल ग्रुप, सिवनी चैंबर ऑफ़ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री, बिल्डर्स एसोसिएशन ऑफ़ इंडिया, रोटरी क्लब ऑफ़ जबलपुर, नरसिंहपुर, गाडरवारा बालाघाट, आदि संस्थाओं ने अपना बहुमूल्य समर्थन दिया है।

Comments About This News :

खबरें और भी हैं...!

वीडियो

देश

इंफ़ोग्राफ़िक

दुनिया

Tag