- यूपी के 75 जिलों के 81 केन्द्रों पर मतगणना आज, मोदी, राहुल, स्मृति, राजनाथ सरीखे दिग्गजों के भाग्य का होगा फैसला

लखनऊ लोकसभा चुनाव-2024 का मतदान सकुशल संपन्न हो जाने के बाद अब कल मतों की गिनती की जायेगी। मतगणना को लेकर चुनाव मैदान में उतरे विभिन्न दलों के प्रत्याशियों के दिलों की धड़कन बढ़ गयी है। यूपी के मतदाता इस बार भी कई अति विशिष्ट राजनेताओं के भाग्य का फैसला कर दिया है। इन नेताओं में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी, केन्द्रीय मंत्री राजनाथ सिंह, स्मृति ईरानी, सिने तारिका हेमा मालिनी आदि का राजनैतिक भविष्य मंगलवार को तय हो जायेगा। मतगणना की तैयारियों को लेकर उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी नवदीप रिणवा ने बताया कि उत्तर प्रदेश के 75 जिलों में 81 केंद्रो पर लोकसभा चुनाव की मतगणना होगी। जिनमें आगरा, मेरठ, आजमगढ़, देवरिया, सीतापुर, कुशीनगर में दो दो केंद्रो पर मतगणना होगी। मुख्य निर्वाचन अधिकारी नवदीप रिणवा ने बताया कि 4 जून सुबह 8 बजे से मतगणना शुरू होगी। इस दौरान विधानसभा क्षेत्रवार मतगणना की जायेगी।

साथ ही मतगणना स्थल पर त्रिस्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है। पहली सुरक्षा व्यवस्था मतगणना स्थल से 100 मीटर की परिधि पर होगी, दूसरी सुरक्षा व्यवस्था मतगणना स्थल के गेट पर होगी जहां राज्य पुलिस बल तैनात रहेगी, इसके अलावा तीसरी सुरक्षा व्यवस्था मतगणना हाल में होगी जो सीआरपीएफ की निगरानी में होगी। उन्होंने आगे बताया कि भीषण गर्मी के चलते मतगणना स्थलों पर प्रत्याशी, उनके अभिकर्ता, मतगणना कार्मिकों और अन्य कर्मचारियों के लिए स्वच्छ और शीतल पेयजल के साथ शौचालय के उचित व्यवस्था को लेकर सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं भारत निर्वाचन आयोग द्वारा मतगणना हेतु 179 प्रेक्षक तैनात किये गये हैं। 15 प्रेक्षक को 01-01 विधानसभा क्षेत्र, 104 प्रेक्षक को 02-02 विधानसभा क्षेत्र तथा 60 को 03-03 विधानसभा क्षेत्र आवंटित किये गये हैं। 80 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों की मतगणना 80 रिटर्निंग आफिसर तथा 1581 सहायक रिटर्निंग आफिसर द्वारा सम्पन्न करायी जायेगी। ददरौल (शाहजहांपुर), लखनऊ पूर्व (लखनऊ), गैंसड़ी (बलरामपुर) तथा सोनभद्र जनपद की दुद्धी (एसटी) विधानसभा उप निर्वाचन क्षेत्र की मतगणना 04 रिटर्निंग आफिसर तथा 26 सहायक रिटर्निंग आफिसर द्वारा सम्पन्न करायी जायेगी। समस्त मतगणना एवं सीलिंग की कार्यवाही सीसीटीवी की निगरानी में की जायेगी। उन्होंने बताया कि सभी लोकसभा क्षेत्रों में पोस्टल बैलेट की गणना हेतु अतिरिक्त कक्ष का अनुमोदन भारत निर्वाचन आयोग द्वारा प्रदान किया गया है। पोस्टल बैलेट की गणना हेतु होम वोटिंग एवं वोटर फैसिलिटेशन सेंटर पर प्राप्त पोस्टल बैलेट मतों की गणना प्रातः आठ बजे प्रारम्भ होगी तथा सर्विस वोटर से प्राप्त ईटीपीबीएस की स्कैनिंग भी प्रातः आठ बजे से प्रारम्भ की जायेगी। स्कैनिंग के उपरान्त ईटीपीबीएस मतों की गणना की जायेगी। ईटीपीबीएस की स्कैनिंग/प्री काउंटिंग हेतु 871 टेबल एवं पोस्टल बैलेट की मतों की गणना 794 टेबल पर की जायेगी। मतगणना स्थल परिसर में मीडिया सेंटर स्थापित किया जा रहा है। सूचना विभाग से एक अधिकारी मीडिया सेंटर का प्रभारी रहेगा। आरओ द्वारा नियुक्त अधिकारियों द्वारा समय-समय पर छोटे समूहों में मीडिया बन्धुओं को कुछ समय के लिए मतगणना हाल का भ्रमण भी कराया जायेगा। मतगणना हाल के भीतर भारत निर्वाचन आयोग से जारी मीडिया पास धारक मीडिया कर्मी को ही बिना स्टैण्ड का कैमरा ले जाने की अनुमति होगी। मीडिया बन्धुओं को मीडिया सेंटर पर मोबाइल प्रयोग किये जाने की अनुमति रहेगी। प्रत्येक मतगणना स्थल पर पब्लिक कम्युनिकेशन कक्ष भी स्थापित किया जा रहा है, जहां पर प्रत्याशी व उनके एजेण्ट आवश्यकता पड़ने पर मोबाइल फोन का प्रयोग कर सकते हैं तथा उनके फोन सुरक्षित रखे जाने की व्यवस्था भी की जा रही है।
प्रत्येक मतगणना हॉल में एक ब्लैक बोर्ड/व्हाइट बोर्ड की व्यवस्था की जायेगी जिसमें प्रत्याशियों के नाम व राउण्डवार परिणाम लिखा जाएगा ताकि सभी मतगणना एजेण्ट उसे देख सकें। मीडिया कर्मी एवं आमजन आयोग की वेबसाइट पर जाकर मतगणना के रूझान एवं परिणाम जान सकते हैं। प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र एवं लोकसभा क्षेत्र में सार्वजनिक उदबोधन प्रणाली की भी व्यवस्था की गयी है। सर्वप्रथम प्रत्येक टेबल पर काउंटिंग एजेण्ट के बैठने की व्यवस्था रहेगी। सबसे आगे मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय एवं राज्यीय राजनैतिक दल, उसके बाद रजिस्ट्रीकृत अमान्यता प्राप्त दल तथा उसके बाद निर्दलीय प्रत्याशी के एजेण्ट बैठेंगे। टेबल पर सीयू आने के उपरान्त मतगणना पर्यवेक्षक द्वारा सीयू का नम्बर दिखाया जायेगा, जिससे यह स्पष्ट होगा कि यह सीयू उसी बूथ से संबंधित है। सीयू के साथ 17सी भाग-1 में उल्लिखित मतों को एजेण्टों को बताया जायेगा। इसके बाद सीयू को ऑन कर प्रत्याशीवार मतगणना परिणाम 17सी भाग-2 पर अंकित किया जायेगा। किसी एजेण्ट द्वारा पुनः परिणाम दिखाये जाने के अनुरोध पर मतगणना पर्यवेक्षक द्वारा पुनः परिणाम दिखाया जाएगा। समस्त जिला निर्वाचन अधिकारियों को निर्देश दिये गये है कि हीटवेव व भीषण गर्मी से बचाव के लिए ‘‘क्या करें/क्या न करें ’’ की सलाह पर विशेष जोर दिया जाये, जिससे कि मतगणना कार्मिकों को किसी प्रकार की समस्या का सामना न करना पड़े। सभी मतगणना कार्मिक हल्के सूती वस्त्रों का प्रयोग करें। तेज धूप से बचाव हेतु टोपी, छाता एवं सर को ढ़कने के लिए सफेद सूती गमछा या अन्य कोई कपड़ा अपने साथ रखें। पानी की बोतल साथ रखें, समय-समय पर आवश्यकतानुसार सादा जल, नींबू पानी या ओआरएस का प्रयोग करते रहें। हीट वेव से बचाव हेतु पर्याप्त ओआरएस/मेडिकल किट एवं मेडिकल टीम भी मतगणना स्थल पर उपलब्ध रहेगी। प्रत्याशी, उनके अभिकर्ता, मतगणना कार्मिकों एवं अन्य कर्मचारियों के बैठने के स्थान पर पंखे, कूलर एवं मिस्ट फैन की भी व्यवस्था किये जाने के निर्देश दिये गये हैं।

Comments About This News :

खबरें और भी हैं...!

वीडियो

देश

इंफ़ोग्राफ़िक

दुनिया

Tag